Worship Maa Shailputri first manifestation of Maa Durga on the first day of Navaratri

Worship Maa Shailputri first manifestation of Maa Durga on the first day of Navaratri

The first form of Maa Durga is Shailputri (parvati), who was born to the King of Mountains. Maa Shailputri is the first manifestation of Maa Durga who is worshipped on the first day of Navaratri

 Surya - The Sun God in Hindu Mythology

Surya - The Sun God in Hindu Mythology

Surya connotes the solar deity in Hinduism,particularly in the Saura tradition found in states such as Rajasthan, Gujarat, Madhya Pradesh, Bihar, Uttar Pradesh, Jharkhand and Odisha.

Dev Deepavali (Diwali) : Spirtual Significance of Dev Deepavali & Dev Diwali Celeberation in Varanasi

Dev Deepavali (Diwali) : Spirtual Significance of Dev Deepavali & Dev Diwali Celeberation in Varanasi

Dev Deepawali in Varanasi is a festival celebrated every year on the occasion of Kartik Poornima. At the occasion of Dev Diwali, all the ghats of River Ganga is lighted with thousands of diyas.

Kaliyug is the best yug | कलियुग ही सर्वश्रेष्ठ

Kaliyug is the best yug | कलियुग ही सर्वश्रेष्ठ

एक बार बड़े-बड़े ऋषि-मुनि एक जगह जुटे तो इस बात पर विचार होने लगा कि कौन सा युग सबसे बढिया है. बहुतों ने कहा सतयुग, कुछ त्रेता को तो कुछ द्वापर को श्रेष्ठ बताते रहे...

परमात्मा को जानने के लिए संसार जरूरी है।

परमात्मा को जानने के लिए संसार जरूरी है।

मैं तुम्हें एक कहानी कहूंगा। एक धनी आदमी अपने देश का सर्वाधिक धनी व्यक्ति अशांत हो गया। बहुत निराश हो गया। उसे लगा कि जीवन अर्थहीन है। उसके पास सब कुछ था जो धन से खरीदा जा सकता था, लेकिन सब कुछ व्यर्थ

Who is Dr. Sarvepalli Radhakrishnan ?

Who is Dr. Sarvepalli Radhakrishnan ?

One of Indias most distinguished twentieth century scholars of comparative religion and philosophy, his academic appointments included the King George V Chair of Mental and Moral Science..

Maa Brahmacharini Second Day of Navaratri | माँ ब्रह्मचारिणी

Maa Brahmacharini Second Day of Navaratri | माँ ब्रह्मचारिणी

नवरात्र पर्व के दूसरे दिन माँ ब्रह्मचारिणी की पूजा-अर्चना की जाती है। साधक इस दिन अपने मन को माँ दुर्गा के चरणों में लगाते हैं। माता दुर्गा का दूसरा स्वरूप ब्रह्मचारिणी का है।

Four Ashramas of Vedic Life - The 4 Stages of Life in Hinduism

Four Ashramas of Vedic Life - The 4 Stages of Life in Hinduism

This system of ashramas is believed to be prevalent since the 5th century B.C.E. in Hindu society. it still stands as an important "pillar" of Hindu socio-religious tradition.

Story Behind the Nag Panchami

Story Behind the Nag Panchami

परंतु सर्प के समझाने पर चुप हो गई। तब सर्प ने कहा कि बहिन को अब उसके घर भेज देना चाहिए। तब सर्प और उसके पिता ने उसे बहुत सा सोना, चाँदी, जवाहरात, वस्त्र-भूषण आदि देकर उसके घर पहुंचा दिया..

जब गांधारी के शाप को हंसते-हंसते स्वीकार कर लिया श्री कृष्ण ( Shri Krishna ) ने

जब गांधारी के शाप को हंसते-हंसते स्वीकार कर लिया श्री कृष्ण ( Shri Krishna ) ने

महाभारत युद्ध के पश्चात् जब श्रीकृष्ण सहित सभी पांडव गांधारी से मिलने गए, तब पुत्रशोक में विह्वल गांधारी ने आंखों की पट्टी के भीतर से ही राजा युधिष्ठिर के पैरों की अंगुलियों के अग्रभाग को....